महिलाओं के लिए हेल्थ टिप्स (Mahilaon ke liye health tips)

Health Tips For Womens - Kaahan Ayurveda

महिलाओं के लिए हेल्थ टिप्स (Mahilaon ke liye health tips)

महिलाएं अपनी हेल्थ का ख्याल कैसे रखें? (How do women take care of their health?)

इस हिंदी लेख में हम बात करेंगे महिलाओं के health tips के बारे में।

दोस्तों घर हो या बाहर। दोंनों जगहों काम को आज की महिला बखूबी निभाने में परिपूर्ण है।

लेकिन रोज की भागदौड़ भरी लाइफ में महिलाएं अपने स्वास्थ्य का देखना रखना भूल जाती हैं।

एक नहीं, कई प्रकार की समस्याएं महिलाओं के साथ लगी रहती हैं।

समस्याएं चाहे भले ही छोटी हों, लेकिन महिलाओं द्वारा इन्हें अनदेखा करने पर,

यही समस्याएं विकराल रूप ले सकती हैं। घर-परिवार के सदस्यों का ख्याल बखूबी रखती हैं।

लेकिन खुद के लिए इनके पास समय नहीं होता। जोकि स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से सही नहीं है।

आप यह हिंदी KaahanAyurveda.com लेख पर पढ़ रहे हैं.. (Health Tips)

जब अपना ख्याल रखेंगी, तभी तो अपनों का ख्याल रख पायेंगी।

इस हिंदी लेख में महिलाओं के स्वास्थ्य से संबंधित कुछ जरूरी और आसान हेल्थ टिप्स दे रहे हैं।

जिनकी मदद से महिलाएं लाइफ स्टाइल में थोड़ा परिवर्तन ला पायेंगी।

इसके अलावा आहार, वर्कआउट और तनावरहित प्लानिंग भी सरलता से कर पायेंगी।

आइए जानने का प्रयास करते हैं महिलाओं के लिए आसान हेल्थ टिप्स।

महिलाओं के लिए कुछ स्वास्थ्य टिप्स (Health Tips in Hindi For Women Body)

Ladies Health Tips - Kaahan Ayurveda
Ladies Health Tips – Kaahan Ayurveda

बात केवल महिलाओं के स्वास्थ्य तक ही सीमित नहीं है।

बल्कि हर व्यक्ति के लिए स्वस्थ रहना जरूरी है।

जिसके लिए व्यक्ति का दिल, दिमाग और शरीर पूरी तरह स्वस्थ होना चाहिए।

लेकिन हमने यहां महिलाओं के लिए कुछ जरूरी हेल्थ टिप्स दिये हैं।

जिनकी मदद से वे जान पायेंगी कि कैसे अपने दिल, दिमाग और शरीर को रख सकती हैं।

साथ ही कुछ अन्य हेल्थ टिप्स की जानकारी भी हमाने इस हिंदी लेख में दिये हैं।

दिल को स्वस्थ रखने के लिए हेल्दी डाइट

Healthy Dites For Womens - Kaahan Ayurveda
Healthy Dites For Womens – Kaahan Ayurveda

इन आहार का अनुसरण करके आप हृदय रोग, स्ट्रोक और दिल से संबंधित अन्य समस्याओं से सुरक्षित रह सकती हैं।

सब्जियां और फल का ज्यादा से ज्यादा सेवन करें

  • ब्राउन राइस का सेवन करें। साबुत अनाज खायें। मैदा के स्थान पर, गेहूं से बने पास्ता का सेवन करें।
  • लीन प्रोटीन का चयन करें। जिसके लिए आप मछली, सेम, फलियां और चिकन को ट्राई कर सकते हैं।
  • अत्यधिक प्रोसेस्ड फ़ूड, चीनी, नमक, और सैचुरेटेड फैट में कटौती करें।
  • ज्यादा चीनी, नमक, प्रोसेस्ड फूड और सैचुरेटेड फैट की मात्रा को कम करें।

उपरोक्त बताये गये स्वस्थ आहार का अनुसरण करने से डाइट में फ्लेक्सिबिलिटी अक्सर बेहतर होती है।

अगर आप एक स्वस्थ और मजबूत आहार योजना की प्लानिंग कर रहे हैं,

तो उपरोक्त बताये आहार योजना का अनुसरण करें।

अन्यथा जो आपके स्वास्थ्य के लिए उत्तम हो, वैसा ही आहार सेवन करें।

रोजाना व्यायाम / वर्कआउट करें

  • आप शरीर से जितने एक्टिव रहेंगे। उतना ही आपके स्वास्थ्य के लिए बढ़िया होगा।आपको रोजाना एक घंटा व्यायाम के लिए निकालना चाहिए। रोजाना व्यायाम व योगा करने से दिल, दिमाग और शरीर स्वस्थ रहता है। मांसपेशियों और हड्डियों को ऊर्जा मिलती है। शक्ति प्राप्त होती है। साथ ही शारीरिक व्यायाम के कारण आप लंबे समय तक स्वस्थ रहते हैं। कई प्रकार की स्वास्थ्य समस्याएं आपसे दूर रहती हैं।
  • आपको चाहिए कि सप्ताह में 2 से 3 घंटे की मध्यम गतिविधि जैसे तेज चलना या डांस जरूर करें। एक्टिव और स्वस्थ शरीर के लिए आप सप्ताह में एक घंटा जरूर दौड़ें। या फिर टेनिस जैसे खेल खेलें। इससे आप फिट और स्वस्थ रहेंगे। इसके अलावा शारीरिक शक्ति बढ़ाने के विषय पर भी अवश्य ध्यान दें।
  • अगर आपकी समस्या ये है कि आप ऑफिस के काम-काज में ज्यादा व्यस्त रहते हैं। तो ऐसे में आपको पूरे दिन अपनी ओर से छोटी-छोटी शारीरिक गतिविधियां करती रहनी चाहिए। जब भी ऑफिस से अवकाश हो। या आपके पास समय हो, तो खूब चलें। पूरे दिन में आपको 10000 कदम चलने चाहिएं। कोशिश करें कि लिफ्ट का प्रयोग ना करके, सीढ़ियों का इस्तेमाल करें। बाहर या ऑफिस आने-जाने के लिए कार का प्रयोग करते हैं। तो अपनी कार को अपने गंतव्य से दूर पार्क करें।

अपना वजन नियंत्रित रखें

  • वजन को नियंत्रित रखने से टाइप 2 मधुमेह, हृदय संबंधित समस्या और कैंसर की संभावना कम होती है।
  • अपना बढ़ा हुआ वजन कम करना चाहते हैं, तो धीरे-धीरे प्रयास करें। यानी सप्ताह में 1 से 2 किलो वजन कम करने का प्रयास करें। इसके लिए एक्टिव रहें और बेहतर आहार का सेवन करें।
  • मोटापा और बढ़े हुए वजन को कम करने एक्सरसाइज जरूरी है। भारी मात्रा में वजन कम करने के लिए आपको चाहिए आप सप्ताह में 300 मिनट व्यायाम अवश्य करें। (Health Tips)
  • हेल्दी डाइट लेने से आप तेजी से अपना वजन घटा सकते हैं। अपने आहार से शुगर की मात्रा को घटायें। सोडा और शर्करायुक्त कॉफी पेय से भी दूर रहने का प्रयास करें।

चिकित्सक से समय-समय पर जांच कराते रहें

  • भविष्य में होने वाली स्वास्थ्य समस्याओं से बचने के लिए। डॉक्टर से समय-समय पर स्वास्थ्य की जांच कराते रहें। ऐसा करने से डॉक्टर को आपके मेडिकल हिस्ट्री की जानकारी होती रहेगी। इसी के अनुसार वह आपका उचित उपचार कर पायेंगे।
  • आपका चिकित्सक आपके स्वास्थ्य की उचित जांच और उपचार के बेहतर विकल्पों के लिए स्क्रीनिंग परीक्षणों की मांग कर सकता है।
  • डॉक्टर से मिलने पर अपने स्वास्थ्य से संबंधित समस्याओं पर चर्चा करें। अगर कोई भी शंका या प्रश्न हो तो डॉक्टर से खुलकर पूछें। वे आपका उचित इलाज व मार्गदर्शन करेंगे।
  • अगर आप किसी मेडिसिन या प्रोसेस के विषय में परेशान हैं। तो इस विषय में डॉक्टर से बात करें। उनसे पूछें।

तनाव कम करें

जरूरत से ज्यादा तनाव लेना आपके स्वास्थ्य के लिए नुकसानदाय साबित हो सकता है।

भले ही आप अपनी मानसिक चिंता व तनाव को टाल नहीं सकती हैं।

लेकिन इसके प्रभाव को अवश्य कम कर सकती हैं।

इसके लिए कुछ तरीके हम आपको नीचे बता रहे हैं। (Health Tips)

जिनकी मदद से आपको अपने तनाव को कम करने में मदद मिलेगी।

  • लंबी व गहरी सांस लें
  • ध्यान
  • योग और योगासन
  • बॉडी मसाज
  • एक्सरसाइज
  • पौष्टिक आहार का सेवन
  • अपने किसी खास मित्र से मिलें। परिजनों से बात करें। या फिर किसी मोटिवेशन प्रवक्ता से मिलें। मोटिवेशनल वीडियो को देखें।

हमेशा अपने शरीर और स्वास्थ्य का ध्यान रखें। कुछ अन्य स्वास्थ्य से जुड़ी बातें हैं, आइए जानते हैं।

महिला स्वास्थ्य के लिए अन्य टिप्स (Other women health tips in hindi)

Mahilayen Swasath Kaise Rahe - Kaahan Ayurveda
Mahilayen Swasath Kaise Rahe – Kaahan Ayurveda

तनाव कम लें

महिलाओं अपनी ओर से भरसक प्रयास करना चाहिए कि तनाव ना लें।

तनाव के कारण बांझपन से लेकर डिप्रेशन और हृदय रोग का खतरा बना रहता है।

अपनी चिंता को कम करने के लिए कोई बेहतर विकल्प खोजें।

खोजने के बाद उसका नियम से अनुसरण करें।

डाइटिंग बंद कर दें

अक्सर डॉक्टर स्वस्थ रहने के लिए हेल्दी डाइट की सलाह देते हैं।

लेकिन कुछ लोग इसका अर्थ यह निकाल लेते हैं कि अपनी पसंद का भोजन बिल्कुल नहीं करना है।

जबकि डॉक्टर की हेल्दी डाइट की सलाह मतलब होता है।

आप ऐसी डाइट लें जिसमें लीन प्रोटीन हो। (Health Tips)

हेल्दी फैट, स्मार्ट कार्ब्स और फाइबर युक्त आहार का सेवन करें।

ऐसे आहार का सेवन कम करें जो फैटयुक्त और कैलोरीयुक्त हो।

अतिरिक्त कैल्शियम न लें

महिलाओं को स्वस्थ रहने के लिए पर्याप्त मात्रा में ही कैल्श्यिम लेना चाहिए।

जरूर से ज्यादा कैल्शियम लेने से गुर्दे की पथरी की समस्या होने की संभावना बढ़ सकती है।

साथ ही दिल से जुड़ी बीमारी होने की संभावना में भी वृद्धि हो सकती है।

यदि आपकी उम्र 50 वर्ष से कम है, तो आपको रोजाना 1000 मि.ग्रा. से ज्यादा कैल्शियम नहीं लेना चाहिए।

वहीं अगर आप 50 वर्ष से अधिक उम्र की हैं, तो आपको प्रतिदिन 1200 मि.ग्रा. कैल्शियम अवशोषिक करने की आवश्यकता है।

कार्डियो व अन्य व्यायाम

व्यायाम करना पुरूष व महिला दोनों के लिए स्वास्थ्य दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण होता है।

विशेषकर महिलाओं को कैंसर, हृदय रोग, डायबिटीज, ऑस्टियोपोरोसिस को

रोकने के लिए सप्ताह में 4 से 5 बार कार्डियो और भार उठाने वाले व्यायाम करने चाहिए।

जैसे कि डंबल उठाना आदि।

संभोग करें

बेहतर संभोग ना केवल शारीरिक थकान को दूर करता है।

अपितु आपके मानसिक तनाव को भी कम करता है।

पुरानी बीमारी के खतरे को कम करने में मदद करता है।

लेकिन इसके लिए जरूरी है कि आप अपनी खुशी से व मर्जी से संभोगे करें।

आनंद लेने के लिए संभोग करें। बाहरी मन से या जबरदस्ती किया गया संभोग लाभकारी नहीं हो सकता है।

अगर कोई चीज आपकी यौन तृप्ति में अड़चन उत्पन्न कर रही है।

तो ऐसे में इसका इलाज करें। डॉक्टर से मिलें।

भरपूर नींद लें

हमेशा स्वस्थ रहने के लिए। शारीरिक और मानसिकि रूप से स्वस्थ रहने के लिए जरूरी है आप पर्याप्त नींद लें।

8 घंटे की नींद लेना बहुत जरूरी होता है अच्छे स्वास्थ्य के लिए।

अगर आप अपनी नींद पूरी नहीं लेते हैं।

तो इसके कारण आपके शरीर को भी पर्याप्त आराम नहीं मिलता है।

जिसके कारण आपको पूरे दिन थकान महसूस होती है।

किसी भी काम में अपना ध्यान केंद्रित करने में समस्या होने लगती है।

साथ ही रिसर्च से पता चलता है कि नींद की कमी आपको हृदय रोग और

मनोवैज्ञानिक परेशानियों के खतरे में डाल सकता है।

जेनेटिक जांच पर ध्यान दें

कई बार कुछ स्वास्थ्य समस्याएं जेनेटिक यानी आनुवांशिक भी हो सकती हैं।

जिसके लिए आपको अपने शरीर की जांच डॉक्टर से कराते रहना चाहिए।

आजकल चिकित्सक ब्रेस्ट कैंसर, ओवेरियन कैंसर और

पुरानी बीमारियों के पारिवारिक इतिहास वाले लोगों की स्क्रीनिंग भी करते हैं।

इसके पश्चात् ही समस्या का सटीक इलाज करते हैं।

यह भी पढ़ें- महिलाओं के लिए सबसे अच्छा टॉनिक (सिरप) कौन सा है?

मदिरापान और धूम्रपान से बचें

अगर आप धूम्रपान करती हैं। साथ ही मदिरापान भी करती हैं,

तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल भी सही नहीं है।

आपको तुरन्त इन बुरी लत से छुटकारा पाना चाहिए।

धूम्रपान और मदिरापान के कारण आपको हृदय रोग

जैसी गंभीर बीमारी का खतरा बना रह सकता है। (Health Tips)

इसलिए प्रयास करें इनसे पूरी तरह दूरी बनाकर रखें।

मौखिक स्वास्थ्य

अक्सर हम सब शारीरिक स्वास्थ्य का ध्यान तो रखते हैं।

लेकिन मौखिक स्वास्थ्य का ध्यान हमें आता ही नहीं।

जबकि अन्य शारीरिक अंगों के साथ-साथ मौखिक स्वास्थ्य पर भी ध्यान देना बेहद जरूरी है।

सुबह उठकर और सोने से पहले अपने दांतों को जरूर साफ करना चाहिए।

अगर किसी प्रकार भी मौखिक स्वास्थ्य के लेकर समस्या दिखे, तो डेंटिस्ट से अवश्य मिलें।

Share this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Open chat
1
काहन आयुर्वेदा - प्रकृति का वरदान
नमस्कार! आपकी क्या सहायता कर सकते हैं?