पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा (Pet saaf karne ki ayurvedic dawa)

Pet Saaf Karne Ki Ayurvedic Dawa - Kaahan Ayurveda

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा (Pet saaf karne ki ayurvedic dawa)

आयुर्वेदिक सिरप पेट की समस्या के लिए (Ayurvedic syrup pet ki samasya ke liye)

हैलो दोस्तों! क्या आप पेट की समस्या (pet ki samasya) से परेशान हैं?

आज हम आपको इस हिंदी लेख में पेट की समस्या के लिए।

आयुर्वेदिक सिरप के बारे में जानकारी देंगे। जिन लोगों को पेट में गैस की समस्या रहती है।

अपच की समस्या रहती है। कब्ज, एसिडिटी, खट्टी डकार, जलन की समस्या रहती है।

ऐसे लोगों के लिए यह हिंदी लेख बहुत ही महत्वपूर्ण होने वाला है।

साथ ही आप जानेंगे पेट की इम्युनिटी (immunity) बढ़ाने के लिए।

पेट को स्वस्थ रखने के लिए आपको कौन सा आयुर्वेदिक तरीका अपनाना चाहिए।

पेट की समस्या के लिए कौन-सा हर्बल टॉनिपक बेहतर है।

वैसे भी अधिकतर कोई भी बीमारी पेट की समस्या से जड़ी होती है।

इसलिए पेट को हमेशा स्वस्थ रखना बेहद आवश्यक होता है।

आप यह हिंदी लेख KaahanAyurveda.com पर पढ़ रहे हैं..

पेट की गैस के मुख्य कारण (Pet ki gas ke mukhya karan)

पेट की गैस का मुख्य कारण होता है अपच की समस्या। पाचन तंत्र की गड़बड़ी।

आप जो कुछ भी खाते हैं या पीते हैं, वह ठीक से नहीं पचता है।

जिसके कारण पेट में गैस की समस्या बढ़ती चली जाती है।

कई लोग पेट की समस्या को लेकर डॉक्टर से संपर्क करते हैं।

लेकिन तब भी कोई स्थाई लाभ नहीं मिलता।

इसलिए हम आपको बता रहे हैं पेट साफ करने की आयुर्वेदिक उपायों के बारे में।

अपच, गैस और कब्ज की आयुर्वेदिक उपाय (Apach gas or kabj ki ayurvedic dawa)

Apach Gas Or Kabj Ki Ayurvedic Dawa - Kaahan Ayurveda
Apach Gas Or Kabj Ki Ayurvedic Dawa – Kaahan Ayurveda

1. प्रतिदिन सुबह खाली पेट गुनगुने पानी में एक चम्मच शहद मिलाकर पीने से। पेट सुबह खुलकर साफ होता है। आप इस पानी में थोड़ा नींबू का रस भी मिलायें। इस प्रकार आपका पेट और भी अच्छी तरह से साफ हो जाता है। पेट की समस्या धीरे-धीरे दूर होती है। क्योंकि दोस्तों पेट साफ ना होने के कारण ही पेट की समस्या पैदा होती है। जैसे गैस बनना, कब्ज होना, अपच की शिकायत। इसलिए पेट को साफ रखने की कोशिश करें। सुबह उठकर यह जो पानी हमने आपको बताया इसका सेवन करें।

2. पेट में कब्ज की समस्या रहती है। सुबह पेट खुलकर साफ नहीं होता है। आप चाहते हैं कि जल्दी आपका पेट साफ हो जाए। तो आपको सुबह उठने के बाद अरंडी का तेल पीना चाहिए। सुबह उठने के बाद अगर आप अंडी का तेल पीकर शौच करने जाते हो। तो इस प्रकार से आपका पेट अच्छी तरह साफ हो जाता है। बहुत सारे चिकित्सकों का यह कहना होता है कि रात को सोने से पहले गर्म दूध में अरंडी का तेल मिलाकर दूध पीना चाहिए। यह तरीका अगर आप अपनाते हैं, तो सुबह उठते ही आपका पेट पूरी तरह साफ होता है। गैस की समस्या भी पूरी तरह दूर हो जाती है।

3. शरीर में कोई भी बीमारी हो, उसके लिए हमेशा सुरक्षित तरीका अपनाना चाहिए। बता दें आयुर्वेद से अधिक सुरक्षित कोई उपाय नहीं है। इसलिए पेट साफ करने के लिए भी आप आयुर्वेदिक तरीका अपनाएं। आयुर्वेदिक तरीका इस्तेमाल करने से आपको लंबे समय तक अपनी समस्या में आराम महसूस होता है। आपको कोई दुष्प्रभाव भी नहीं झेलने पड़ते हैं। जहां तक पेट साफ रखने की बात है। तो पेट साफ रखने के लिए शरीर में बैक्टीरिया कम होने चाहिएं। शरीर में बैक्टीरिया अगर ज्यादा हो जाते हैं, तो इस वजह से पेट में समस्या पैदा होने लग जाती है। इसके लिए आप त्रिफला चूर्ण का सेवन कर सकते हैं। इससे आपको बहुत फायदा मिलेगा।

4. जब भी आप भोजन करें। तो भोजन करने के तुरंत बाद पानी ना पिएं। क्योंकि जब आप तुरंत खाना खाने के बाद पानी पीते हैं। आपका खाना अच्छे से पचता नहीं है। वह शरीर में ही पानी के साथ चढ़ने लगता है। जिससे पेट में एसिड बनने लगती है। इसी वजह से सीने में जलन, गैस बनने लगती है। कब्ज की समस्या पैदा होना शुरू हो जाती है। आप गैस की समस्या होने पर त्रिफला का सेवन कर सकते हैं।

या फिर शतावरी पाउडर का सेवन आप कर सकते हैं। शतावरी पाउडर आपके पूरे शरीर का बैलेंस बनाने में मदद करता है। यानी शरीर में अगर आपको कुछ भी कमी नजर आती है। समस्या नजर आती है। पेट से जुड़ी समस्या नजर आती है। शतावरी बहुत ज्यादा आपकी मदद करता है।

पेट साफ करने का आयुर्वेदिक सिरप (Pet saaf karne ka ayurvedic syrup)

Pet Ko Swastha Rakhne Ke Liye Herbal Syrup - EnzymeLar
Pet Ko Swastha Rakhne Ke Liye Herbal Syrup – EnzymeLar

जिन लोगों को पेट साफ ना रहने की समस्या रहती है। सुबह शौचालय में पेट खुलकर साफ नहीं होता है। हर वक्त पेट में गैस, दर्द, भारीपन, अपच, कब्ज और एसिडिटी, खट्टी डकार की परेशानी बनी रहती है। ऐसे लोगों को काहन आयुर्वेदा (Kaahan Ayurveda) का हर्बल टॉनिक एंजाइमलर / ENZYMELAR का सेवन करना चाहिए।

यह प्राकृतिक जड़ी-बूटियों से मिलकर बनाया जाता है। पेट की समस्या के लिए बेहद असरदार सिरप है। किसी तरह का कोई साइड इफेक्ट भी नहीं होता है। सुबह-शाम इसे आपको एक चम्मच गुनगुने पानी के साथ लेना होता है। धीरे-धीरे पेट स्वस्थ होने लगता है। पेट की इम्युनिटी को बढ़ाकर ये सिरप पेट की सभी समस्याओं में आपको पूरा आराम पहुंचाती है। घर में बच्चों से लेकर बड़े तक इसका सेवन कर सकते हैं।

एंजाइमलर में मौजूद जड़ी-बूटियाँ कैसे काम करती हैं?

इस आयुर्वेदिक सिरप में मौजूद जड़ी-बूटियां जैसे कि तेजपत्ता, अजवाइन, चव्य, माघपीपल, लौंग, सौंठ, जीरा, नौसादार आदि। ये सभी जड़ी-बूटियां आपके पेट की इम्युनिटी को बढ़ाती हैं। पेट में गंदे बैक्टिरिया को समाप्त करती है। शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करती हैं। भोजन को पचाने के लिए एक विशेष लार का निर्माण करती हैं। जिसके कारण भोजन अच्छी तरह से पचकर सुबह मलाशय से बाहर निकल आता है। पेट खुलकर साफ होता है। बिना अधिक दबाव के मल त्याग को आसान बनाने में ये सिरप बहुत मददगार है।

यह भी पढ़ें- जोड़ों का दर्द कैसे ठीक करें?

आयुर्वेदिक सिरप Enzymelar को कैसे खरीद सकते हैं?

आप इसे खरीदने के लिए Amazon और FlipKart पर जा सकते हैं। या फिर वेबसाइट Enzymelar.com को लॉग-ऑन करके आप इसे ऑर्डर कर सकते हैं। 5 से 7 दिन में आपको घर बैठे दवा प्राप्त हो जायेगा। होम डिलीवरी एमदम फ्री है। केवल दवा के पैसे आपको देने होते हैं।

Share this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Open chat
1
काहन आयुर्वेदा - प्रकृति का वरदान
नमस्कार! आपकी क्या सहायता कर सकते हैं?