क्या नाईट फॉल को रोका जा सकता है? (Kya nightfall ko roka ja sakta hai?)

Nightfall Kaise Roke - Kaahan Ayurveda

क्या नाईट फॉल को रोका जा सकता है? (Kya nightfall ko roka ja sakta hai?)

नाईट फॉल कैसे होता है? (Nightfall kaise hota hai?)

जब नींद में स्वप्न के दौरान अनैच्छिक वीर्य स्खलन हो जाता है, तो इसे ही नाईट फॉल (nightfall) यानी स्वप्नदोष कहते हैं।

यानी ऐसा दोष, जो स्वप्न में हो जाता है। स्वप्न में आपको अश्लील, संभोगरत स्वप्न आते हैं।

जिसके कारण लिंग से वीर्य स्खलित हो जाता है।

इस समस्या को नाईट फॉल, वेट ड्रीम्स (wet dreams) और नोक्टर्नल एमिशन (nocturnal emission) भी कहते हैं।

नाईट फॉल को ऐसे समझने का प्रयास करें

यूं तो स्वप्नदोष स्त्री हो या पुरूष दोनों को हो सकता है।

लेकिन अधिकतर पुरूषों में नाईट फॉल अधिक देखने को मिलता है।

नाईट फॉल का प्रमुख कारण यौन सक्रियता से संबंधित होता है।

इसके अतिरिक्त आपके सोने की मुद्रा या पहने हुए वस्त्र के कारण भी लिंग में उत्तेजना आती है और वीर्य स्खलित हो जाता है।

लेकिन हर बार ये जरूरी नहीं, कि लिंग में तनाव आने के कारण ही स्वप्नदोष हो।

कभी-कभी बिना तनाव के भी वीर्य नींद में स्खलित हो जाता है।

आप यह हिंदी लेख KaahanAyurveda.com पर पढ़ रहे हैं..

स्वप्नदोष क्यों होता है? (Swapandosh kyu hota hai?)

जब युवा पुरूष जवानी की राह में आगे कदम बढ़ा रहे होते हैं।

तो उनकी बॉडी में टेस्टोस्टेरॉन नामक मेल हार्मोन का निर्माण होना आरंभ हो जाता है।

जब बॉडी में टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन बनना शुरू होते हैं, तो बॉडी वीर्य को स्खलित कर सकती है।

युवा अवस्था के दौरान टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन के कारण ही लिंग में तनावयुक्त होता है।

इसलिए जब आपकी बॉडी में टेस्टोस्टेरॉन की मात्रा अधिक हो जाती है,

तो नींद के दौरान भी पेनिस में इरेक्शन हो जाता है।

इरेक्शन के कारण ही वीर्य स्खलित हो जाता है। यानी नाईट फॉल हो जाता है।

क्या नाईट फॉल होना गलत है? (Kya nightfall hona galat hai?)

Nightfall Hona Kitna Bura - Kaahan Ayurveda
Nightfall Hona Kitna Bura – Kaahan Ayurveda

स्वप्नदोष होना एक सामान्य व स्वाभाविक क्रिया है।

मगर कुछ पुरूष इससे घबराने लगते हैं। उन्हें आत्म-गिलानी महसूस होने लगती है।

उन्हें लगता है कि नाईट फॉल की समस्या होना एक शर्मनाक बात है। लेकिन ऐसा कुछ नहीं है।

आप ना तो डरें और ना ही शर्म महसूस करें। स्वप्नदोष की समस्या समय के साथ-साथ धीरे-धीरे स्वयं ही ठीक हो जाती है।

जैसे कि हस्तमैथुन या विवाह के बाद संभोग का आदि हो जाने पर नाईट फॉल होना स्वतः ही बंद हो जाता है।

वैसे स्वप्नदोष युवा अवस्था में ही अधिक होता है।

इसलिए हमें चाहिए कि हम अपने बच्चों को इस बारे में सचेत व शिक्षित करें।

ताकि वे भविष्य में इसे अन्यथा ना लें। ना तो डरें और ना ही तनाव लेकर आत्म-गिलानी महसूस करें।

क्या लड़कियों को भी स्वप्नदोष की समस्या होती है?

Kya Ladkiyon Ko Bhi Nightfall Hota Hai - Kaahan Ayurveda
Kya Ladkiyon Ko Bhi Nightfall Hota Hai – Kaahan Ayurveda

महिला हो या लड़की दोनों को ही स्वप्नदोष हो सकता है।

इन्हें भी स्वप्न में अनैच्छिक चरम प्राप्त हो सकता है।

लेकिन, लड़कों की तरह लड़कियों की बॉडी से वीर्य स्खलित नहीं होता है।

साथ ही पुरूषों की अपेक्षा महिलाओं को बहुत ही कम मात्रा में वेट ड्रीम्स आते हैं।

क्या नाईट फॉल से इम्यूनिटी कम होती है? (Kya nightfall se immunity kam hoti hai?)

कई पुरूषों की ये धारणा होती है कि जितना ज्यादा नाईट फॉल होगा, उतनी ही उनकी इम्युनिटी कम होगी।

नाईट फॉल से इम्युनिटी कम होने के कारण उन्हें सर्दी या संक्रमण के खतरे की संभावना भी बढ़ जाती है।

लेकिन यह पूरी तरह गलत धारणा है।

बल्कि नाईट फॉल के जरिए अंडकोष से अतिरिक्त वीर्य को बाहर निकलने में मदद मिलती है।

ऐसा होना पुरूषों के प्रजनन तंत्र के लिए बेहतर होता है।

क्या स्वप्नदोष को रोका जा सकता है? (Kya Swapandosh ko roka ja sakta hai?)

स्वप्न पर किसी का वश नहीं चलता है। इसपर नियंत्रण पाना असंभव है।

मगर स्वप्न विशेषज्ञ की मानें तो कुछ उपायों की मदद से आप अपने स्वप्न पर नियंत्रण पा सकते हैं।

मगर इस बारे में अभी पूरी व सही जानकारी उपलब्ध नहीं है।

नाईट फॉल के नुकसान क्या हैं? (Nightfall ke nuksan kya hai?)

Nightfall Ke Nuksan - Kaahan Ayurveda
Nightfall Ke Nuksan – Kaahan Ayurveda

वैसे तो नाईट फॉल होना एक साधारण शारीरिक स्थिति है।

माह में अगर 2 से 3 बार नाईट फॉल हो भी रहा है, तो घबराने की जरूरत नहीं होती है।

ये नुकसानदायक नहीं है। मगर 10 से 12 या उससे भी अधिक बार स्वप्नदोष हो रहा है।

तो फिर आपको इसको तुरन्त रोकना चाहिए। चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए।

जहां तक स्वप्नदोष के दुष्प्रभाव की बात है।

तो इस विषय में अभी पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है।

लेकिन फिर भी कुछ समस्याओं का संबंध स्वप्नदोष के नुकसान के साथ जोड़कर माना जाता है।

  • जैसे कि याददाश्त कमजोर होना
  • आंखों के नीचे डार्क सर्कल बनना
  • कमजोरी, थकान, नजरें कमजोर होना
  • बाल झड़ना, घुटनों में दर्द आदि।

नाईट फॉल का इलाज क्या है? (Nightfall ka ilaj kya hai?)

स्वप्नदोष का उपचार व नाईट फॉल का इलाज की विशेष आवश्यकता पड़ती नहीं है।

क्योंकि जब लड़के अपनी यौवनावस्था को एक बार पार कर लेते हैं।

तब ये समस्या समय के साथ-साथ धीरे-धीरे स्वयं ही ठीक होने लगती है।

फिर भी कभी-कभार हस्तमैथुन (hastmaithun) या संभोग (sambhog) की मदद से इस स्थिति को कम किया जा सकता है।

मगर हमारी आपको यही सलाह है कि एक बार आप डॉक्टर से भी इस बारे में चर्चा जरूर करें।

उनसे उचित सलाह प्राप्त करें।

यह भी पढ़ें- लिंग की कमजोर नसें कैसे ठीक करें?

स्वप्नदोष के लिए टिप्स

  • अगर आपको काफी समय से नाईट फॉल की समस्या हो रही है, तो आप इसे कुछ टिप्स की मदद से कम कर सकते हैं। आइए कुछ टिप्स जानते हैं।
  • सोने के तुरन्त पहले या कुछ मिनट पहले पानी या अन्य तरल पदार्थों का सेवन ना करें।
  • सोने से लगभग एक घंटे पहले मूत्र त्याग करके सोयें।
  • जब रात्रि में सोने जा रहे हों, तो उस समय अपने दिमाग को शांत रखें। ताकी आपको गहरी, अच्छी संतुष्ट भरी नींद आ सके और आपका नाईट फॉल होने से बच जाये। गहरी नींद सोने के लिए आप अपनी पसंदानुसार मधुर संगीत सुनें। सोने से पहले प्रेरणासंगत बुक आदि पढ़ें।
  • नाईट फॉल से बचने के लिए ध्यान (मेडिटेशन) का सहारा लेना बहुत बढ़िया विकल्प साबित हो सकता है। ध्यान की मदद से आपका मन-मस्तिष्क शांत रहेगा। आपको गहरी अच्छी नींद आयेगी और स्वप्नदोष होने की संभावना कम होगी।
  • पोर्न, अश्लील सामग्रियों से दूर रहें। बुरी संगत व विचारों से दूर रहें।
  • अगर पेट की बल सोने की आदत है, तो इसे बदलें। आप दाईं ओर करवट लेकर सोयें। जिससे अनैच्छिक उत्तेजना नहीं आयेगी। आप सोते समय आरामदायक ढीले वस्त्र पहनकर सोयें। इससे नाईट फॉल की समस्या में कमी आयेगी।
  • प्राइवेट पार्ट में खून का प्रवाह बढ़ जाने से भी नाईट फॉल होने की संभावना बढ़ जाती है। ऐसे में सोने से पहले ठंडे पानी नहाकर भी सो सकते हैं। इससे आपके लिंग में खून का प्रवाह थोड़ा कम होगा। अनैच्छिक तनाव नहीं आयेगा। स्वप्नदोष नहीं होगा।
  • तेज मसालेदार व गरम चीजों का सेवन कम कर दें। ये कामेच्छा को बढ़ावा देते हैं। अनैच्छिक पेनिस इरेक्शन होता है। जोकि नाईट फॉल को निमंत्रण देने का काम करता है।

नाईट फॉल का आयुर्वेदिक इलाज क्या है? (Nightfall ka ayurvedic ilaj)

Nightfall, Dhat Rog, Shukranu Ki Kami, Shighrapatan Ke Liye Herbal Medicine - SHUKRAWAH
Nightfall, Dhat Rog, Shukranu Ki Kami, Shighrapatan Ke Liye Herbal Medicine – SHUKRAWAH

नाईट फॉल की दवा (nightfall ki dawa) का सेवन करना ही स्वप्नदोष का आयुर्वेदिक इलाज (swapandosh ka ayurvedic ilaj) है।

आप नाईट फॉल की आयुर्वेदिक दवा शुक्रवाह (SHUKRAWAH) का सेवन करें। यह दवा पाउडर के रूप में आती है।

जिसे एकदम शुद्ध प्राकृतिक जड़ी-बूटियों के मिश्रण से तैयार किया जाता है।

इस दवा का आपके शरीर पर किसी भी तरह का कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है।

  • इस दवा फायदे के बारे में जानते हैं।
  • तनाव को कम करके मन को शांत रखती है।
  • आपको अश्लील व गंदे विचारों से दूर रखने में मदद करती है।
  • वीर्य को गाढ़ा करके वीर्य की मात्रा बढ़ाती है।
  • शुक्राणु की संख्या को बढ़ाती है।
  • शीघ्रपतन दूर करने में भी सहायक है।
  • इम्युनिटी को बढ़ाती है और एनर्जी को बनाये रखती है आदि।

शुक्रवाह को कैसे खरीदें? (How To Purchase Shukrawah?)

आप वेबसाइट ShukraWah.com जाकर लॉग ऑन कर सकते हैं। यहां से इस दवा की पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। फिर अपनी पूरी तसल्ली के बाद इस दवा को ऑर्डर करके घर बैठे दवा प्राप्त कर सकते हैं।

या फिर फ्री हेल्पलाइन नं0 9999886112 पर Call करके या Whatsapp करके भी दवा ऑर्डर कर सकते हैं। नाईट फॉल से परमानेंट के लिए छुटकारा प्राप्त कर सकते हैं।

 

Share this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Open chat
1
काहन आयुर्वेदा - प्रकृति का वरदान
नमस्कार! आपकी क्या सहायता कर सकते हैं?